Monday, December 6, 2021
Homeमनोरंजनकभी मुंबई की सड़कों पर पेन बेचकर भरते थे परिवार का पेट,...

कभी मुंबई की सड़कों पर पेन बेचकर भरते थे परिवार का पेट, आज है 300 करोड़ के मालिक…!

हिंदी सिनेमा में कॉमेडी कर लाखो करोडो लोगो को हँसाने वाले है जॉनी लीवर का नाम आज कामयाबी की उचाइयो पर है. बच्चे बच्चे की जुबान पर उनका नाम आज भी छाया हुआ है. हम लोग जब से कॉमेडियन जॉनी लीवर को फिल्मों में काम करते हुए देखते आ रहे हैं। और ये हमेशा आज तक फिल्मो में ज्यादातर कॉमेडी रोल ही निभाते नजर आये हैं। इसी कारण आज दुनिया में उनकी पहचान एक कॉमेडी कलाकार के रूप में है। जॉनी लीवर की कॉमेडी के आज भी लोग बहुत ज्यादा पसंद करते हैं।

जानकारी के अनुसार जॉनी लीवर ने अपने कॉमेडियन रोल के आधार पर बॉलीवुड इंडस्ट्री में 4 दशकों से काम करते आ रहे हैं। और इन 4 दशको में ना जाने इन्होने कितनी फिल्मों में अपनी कॉमेडी से लोगो को हसाया है। इस दौरान उन्होंने बॉलीवुड इंडस्ट्री के करीब सभी बड़े कलाकारों के साथ स्क्रीन शेयर की है। इस दौरान जॉनी ने कई तरह के रोल किए है। लेकिन लोगों को उनमे उनका कॉमेडी अवतार ही ज्यादा पसंद आता है।

लेकिन बॉलीवुड इंडस्ट्री में इतनी बड़ी कामयाबी पाने के लिए जॉनी लीवर के लिए यह कोई आसान काम नहीं था। बताया जाता है की उन्होंने अपने शुरुआती दिनों में काफी ज्यादा संघर्षों का सामना किया है तब जाकर बॉलीवुड इंडस्ट्री में आ पाए और आज अपने परिवार के साथ आलीशान जिंदगी जी पा रहे हैं। आज की इस पोस्ट में हम आपको जॉनी लीवर के जीवन से जुड़ी कुछ ऐसी अनोखी बातें बताने वाले ही जिससे आप आज तक अनजान थे..

दरअसल अभिनेता जॉनी लीवर बहुत गरीब परिवार से संबंध रखते हैं यही कारण है कि उन्हें फिल्म इंडस्ट्री में आने से पहले कई तरह की नौकरी करनी पड़ी थी। एक समय था जब जोनी मुंबई की सड़कों पर गली-गली में पेन बेचते थे। तब कहीं जाकर अपने परिवार का पालन पोषण होता था। जॉनी के नाम से फेमस इस कलाकार का पूरा नाम जॉन राव प्रकाश राव जनुमाला है। घर की स्तिथि खराब होने के कारण अभिनेता को सुजाता संग शादी कर दी गई थी।

घर को चलाने के लिए पहले से ही जॉनी के पिता ‘हिंदुस्तान यूनिलीवर लिमिटेड’ में ऑपरेटर का काम किया करते थे। लेकिन उनके द्वारा इतना पैसा नहीं कमाया जाता था कि पूरा परिवार आराम से रह सके क्योंकि अभिनेता के और भी भाई बहन थे। जिनका खर्च उनके पिता नहीं उठा पाते थे। इस आर्थिक तंगी के चलते हुए अभिनेता जॉनी लीवर ने अपनी आगे की पढ़ाई को सातवीं कक्षा में ही रोक दिया। अभिनेता को पैसों की कमी के कारण अपनी पढ़ाई का बलिदान देना पड़ा इसके बाद अभिनेता का स्ट्रगल का दौर चालू हुआ। इतना ही नहीं उन्होंने खर्चा चलाने के लिए मुंबई की गलियों में पेन बेचने का काम शुरू किया।

काफी समय तक छोटा मोटा काम कर अपना गुजरा करने वाले जॉनी ने बाद में अपने पिता के साथ उनकी कंपनी में ही काम पर जाना शुरू कर दिया था. और फ्री समय में वे लोगों को मिमिक्री कर के सुनाते थे और यहीं टैलेंट उन्होंने अपनी कंपनी के एनुअल फंक्शन में दिखाया। तो इसके बाद ही जोंनी को थोड़ी पहचान मिलने के बाद अपने नाम को छोटा कर लिया। उन्होंने अपना नाम जॉनी लीवर पहचान मिलने के बाद रखा।

इस दौरान कुछ सालों तक जोनी ने अपने पिता के साथ काम किया और बाद में जोनी अपनी किस्मत को आजमाने निकल पड़े और पूरा समय कॉमेडी करने में लगाय और काम की तलाश करने के लिए निकल पड़े, इस दौरान ही उन्होंने सुजाता से शादी की जिससे उनके घर 2 बच्चे हुए। लेकिन जीवन में काफी समय इधर उधर काम करने के बाद जॉनी लीवर की लाइफ में ऐसा मोड़ आया की उनकी पूरी जिंदगी अचानक से बदल गई। साल 1986 में उन्हें फिल्म लव 86 में काम करने का मौका मिला और जॉनी ने इस फिल्म से अपने करियर की शुरुआत की, इस फिल्म ने कलाकार की लाइफ पूरी तरह बदल दी इसके बाद अब जॉनी अपने करियर में अब तक करीब 350 फिल्मे कर चुके है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments